✒️संजय वर्मा-गोरखपूर,चौरा चौरी(प्रतिनिधी)मो:-9235885830

गोरखपुर(दि.3ऑक्टोबर):-दो-चार दिन सोशल मीडिया पर पीड़िता के लिए न्याय की गुहार लगाकर और मोमबत्ती मार्च निकालने के बाद लोग घटना को भूल जाते..!

उक्त बातें मुंडेरा बाजार कांग्रेस नगर अध्यक्ष संजय वर्मा ने अपने आवास सृष्टि रोड वार्ड नंबर 6 पर कही I
सन 2012 में निर्भया कांड के बाद देशवासियों को उम्मीद थी कि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए सरकारें नए कानून लाएंगी, दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और बलात्कार की घटनाएं रुक सकेंगी।
आठ साल बीत जाने के बाद भी देश में ऐसी घटनाओं में कोई कमी नहीं आई है।

एक तरफ देश के प्रधानमंत्री ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की मुहिम चला कर बेटियों की जनभागीदारी सुनिश्चित करने का दावा करते हैं, लेकिन बेटियों की सुरक्षा के लिए अभी तक कोई कारगर कानून नहीं लाया जा सका।
दो सप्ताह पहले हाथरस में एक बेटी के साथ और अभी बलरामपुर में एक छात्रा के साथ हुई दर्दनाक घटना ने सबको विचलित कर दिया है और लड़कियों की सुरक्षा पर प्रश्न-चिह्न लगा दिया है।
देश में बलात्कार और महिला उत्पीड़न की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं और दोषियों को सजा के बजाय प्रकारांतर से पुलिस का संरक्षण मिल जाता है।
अगर अभी भी इस विषय को गंभीरता से नहीं लिया गया तो महिलाओं का घर से बाहर निकलना दुष्कर हो जाएगा। दो-चार दिन सोशल मीडिया पर पीड़िता के लिए न्याय की गुहार लगा कर और मोमबत्ती मार्च निकालने के बाद लोग घटना को भूल जाते हैं और प्रशासन भी शिथिल पड़ जाता है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर चलता रहता है और जब तक दोषियों को सजा मिलती है तब तक ना जाने कितनी लड़कियों के साथ दुर्व्यवहार हो चुका होता है।

मानवता को शर्मसार करने वाली घटनाओं के दोषियों को कड़ी से कड़ी और त्वरित सजा मिलनी ही चाहिए।
सरकार को महिलाओं से छेड़छाड़ और बलात्कार जैसे अपराधों को पूरी तरह रोकने के लिए कड़े कानून बनाने चाहिए, ताकि समाज में संदेश जाए कि ऐसे अपराधों के लिए किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।
तभी शायद पीड़िता को उचित न्याय मिल सकेगा और ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगेगा।

सामाजिक 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

©️ALL RIGHT RESERVED